IPL 2024 : रवि शास्‍त्री ने इंपैक्ट प्लेयर नियम का किया समर्थन,बोले -‘समय के साथ विकसित होना जरूरी‘

नई दिल्लीः आईपीएल 2024 सीजन-17 अब अपने अंतिम पड़ाव पर है। इस सीजन इम्पैक्ट प्लेयर नियम काफी चर्चा का विषय रहा है। जहां एक तरफ कई मौजूदा क्रिकेटर्स और पूर्व क्रिकेटर्स ने इस नियम को गलत ठहराया है तो वहीं कई क्रिकेटर्स ने इसका समर्थन किया है। वहीं अब इस लिस्ट में टीम इंडिया के पूर्व हेड कोच रवि शास्त्री का नाम भी जुड़ गया है। रवि शास्त्री ने इम्पैक्ट प्लेयर नियम का समर्थन किया है।

रवि शास्‍त्री ने इंपैक्ट प्लेयर नियम का किया समर्थन

पूर्व भारतीय कोच रवि शास्त्री भी इंपैक्ट प्लेयर नियम की बहस में कूद पड़े हैं और उन्होंने इस नियम का समर्थन किया है। शास्त्री के अनुसार इंपैक्ट प्लेयर नियम होने से आईपीएल में कई रोमांचक मैच फिनिश देखने को मिले हैं। आईपीएल 2024 में बड़े स्कोर बनने में इंपैक्ट प्लेयर नियम का बड़ा योगदान रहा है। हालांकि, भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने इस नियम की आलोचना की थी। उनका कहना था कि यह ऑलराउंडर की क्षमता को समाप्त कर रहा है।

भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने इंपैक्ट प्लेयर नियम की कड़ी आलोचना

भारतीय कप्तान रोहित पहले ऐसे खिलाड़ी थे जिन्होंने खुलकर इस नियम का विरोध किया था। इंपैक्ट प्लेयर नियम की शुरुआत 2022 सीजन से हुई थी। शुरुआत में इसे सैयद मुश्ताक अली टी20 टूर्नामेंट में लागू किया गया था। इस नियम के तहत कोई भी टीम इंपैक्ट सब के तौर पर टीम में 12वां खिलाड़ी रख सकती है। टीमों को टॉस के दौरान इंपैक्ट खिलाड़ियों की लिस्ट सौंपनी होती है और टीम प्लेइंग-11 में मौजूद किसी खिलाड़ी की जगह एक इंपैक्ट सब के मैदान पर उतार सकती है।

‘आपको समय के साथ चलना होता है’-रवि शास्‍त्री

Ravi Shastri talks about Dhoni, Rohit, Virat and their influence on the IPL on Kutti Stories with Ash. A fiery interview as usual by Ravi Bhai. Watch the full episode here:https://t.co/zInnGQXPY2 pic.twitter.com/0ElnkBbNVu

— Johns. (@CricCrazyJohns) May 14, 2024

शास्त्री ने रविचंद्रन अश्विन के साथ यू-ट्यूब चैनल पर कहा, इंपैक्ट प्लेयर नियम अच्छा है। आपको समय के साथ चलना होगा। ऐसा अन्य खेलों में भी होता है। इससे रोमांचक फिनिश देखने मिले। आप देखें कि पिछले साल हमें कितने रोमांचक फिनिश देखने मिले, इसने अंतर पैदा किया है। जब नया नियम आता है तो कुछ लोग इस कोशिश में रहते हैं कि इसे कैसे गलत साबित किया जाए, लेकिन जब आप 190-200 का स्कोर लगातार बनते देखते हैं और लोगों को अवसर मिलते देखते हैं तो आप नियम के बारे में सोचने पर विवश हो जाते हैं।

इंपैक्ट प्लेयर नियम स्थायी नहीं- जय शाह

हाल ही में भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के सचिव जय शाह ने कहा था कि इंपैक्ट प्लेयर नियम स्थायी नहीं है और भविष्य में इस पर पुनर्विचार संभव है। शाह ने कहा था, इंपैक्ट प्लेयर का नियम प्रयोग के तौर पर लागू किया गया था । वैसे इससे दो भारतीय खिलाड़ियों को खेलने का अतिरिक्त मौका मिल रहा है। क्या यह महत्वपूर्ण नहीं है। खेल भी और प्रतिस्पर्धी हो रहा है। खिलाड़ियों और फ्रेंचाइजी को लगता है कि यह सही नहीं है तो हम इस पर बात करेंगे। अभी तक किसी ने ऐसा कुछ कहा नहीं है। आईपीएल और टी20 विश्व कप के बाद बैठक में तय किया जाएगा। यह स्थाई नियम नहीं है और मैं यह भी नहीं कह रहा कि हम इसे खत्म कर देंगे। शाह ने यह भी कहा कि टी20 विश्व कप खेलने जा रहे भारतीय खिलाड़ियों को आराम की जरूरत नहीं है क्योंकि मैच प्रैक्टिस ही सबसे अच्छी तैयारी होती है।

रोहित शर्मा ने ठहराया था गलत

टीम इंडिया के कप्तान रोहित शर्मा भी इम्पैक्ट प्लेयर नियम को गलत ठहरा चुके हैं। रोहित शर्मा ने इसको लेकर कहा था कि ये नियम वास्तव में ऑलराउंडर्स के प्रदर्शन पर बाधा डालता है। क्रिकेट 11 खिलाड़ियों का खेल होता है लेकिन इस नियम के चलते 12 खिलाड़ी खेल रहे हैं। मैं इस नियम को बहुत ज्यादा पसंद नहीं करता हूं।

अक्षर पटेल और मुकेेशकुमार भी इस नियम के है ख़‍िलाफ़

इसके अलावा अक्षर पटेल और मुकेेशकुमार ने भी इस नियम के ख़‍िलाफ़ बात कही थी.दिल्ली कैपिटल्स के प्रमुख कोच रिकी पोंटिंग ने हालांकि कहा था कि अगर इससे टूर्नामेंट बेहतर हो रहा है तो वह इसको बनाए रखने के लिए खुश हैं. लेकिन एक कोच के तौर पर उन्‍होंने स्‍वीकार किया कि वह इस नियम के लिए उत्‍सुक नहीं थे, यह एक दुस्‍वप्‍न है. इस नियम को पिछले साल सैयद मुश्‍ताक़ अली ट्रॉफ़ी में लागू करने के बाद पिछले आईपीएल सीज़न में लगाया था था, जिसके तहत टॉस के समय घोषित की गई मुख्‍य इलेवन से कभी भी किसी भी समय 12वें खिलाड़ी के रूप में किसी अन्‍य खिलाड़ी से बदलकर इसको लाया जा सकता है.

क्या है इम्पैक्ट प्लेयर नियम?

बीसीसीआई ने आईपीएल 2023 में इम्पैक्ट प्लेयर नियम की शुरुआत की थी। जिसका सबसे ज्यादा फायदा इस सीजन देखने को मिला है। हर मैच में टॉस के दौरान सभी टीमें अपने-अपने 5 इम्पैक्ट प्लेयर के नाम देती है। ये 5 खिलाड़ी प्लेइंग इलेवन से अलग होते हैं। जिसमें से मैच के दौरान टीम एक ही खिलाड़ी को यूज कर सकती है। जब टीम की बल्लेबाजी कमजोर होती है तो कप्तान एक बल्लेबाज को इम्पैक्ट प्लेयर के रूप में शामिल करता है।तो वहीं जब टीम की गेंदबाजी कमजेर होती है तो कप्तान किसी गेंदबाज का यूज करता है। इस दौरान एक मैच में सभी टीमें 11 की बजाय 12 खिलाड़ियों को खिलाती है। आईपीएल 2024 में सभी फ्रेंचाइजीज ने इस नियम का भरपूर फायदा उठाया। जिसके चलते इस सीजन 8 बार 250 से ज्यादा का स्कोर बना है।

The post IPL 2024 : रवि शास्‍त्री ने इंपैक्ट प्लेयर नियम का किया समर्थन,बोले -‘समय के साथ विकसित होना जरूरी‘ appeared first on bignews.

[#content_wordai] 

Share This Article
Leave a comment