1.25 लाख घरों ने नहीं किया प्रॉपर्टी टैक्स जमा,कानपुर नगर निगम लगाएगा एक और टैक्स

नई दिल्ली – कानपुर में बने लगभग सवा लाख मकानों ने अभी तक अपना प्रॉपर्टी टैक्स नहीं जमा किया है, जिससे कानपुर नगर निगम को बड़ा नुकसान उठाना पड़ रहा है. नगर निगम का सबसे बड़ा रेवन्यु का सोर्स प्रॉपर्टी टैक्स माना जाता है. जिससे साल भर में करोड़ों रुपए विभाग कमाता है, लेकिन कानपुर के लाख के ऊपर मकानों ने अपना टैक्स ही जमा नहीं किया है.शहर में जिन प्रॉपर्टी ने अभी तक अपना असेसमेंट नहीं कराया है. उन्हें इस कतार में शामिल करने के लिए तैयारी की जा रही है. दरअसल फाइनेंशियल ईयर 23-24 में विभाग ने लगभग 4 करोड़ के लगभग वसूली की थी और इस बार नगर निगम ने इन सवा लाख मकानों से असेसमेंट चार्ज लेने की तैयारी कर ली है. नगर निगम के पास रेवेन्यू का सबसे बड़ा सोर्स हाउस टैक्स ही है. इसके लिए जोनवार टैक्स निर्धारण न कराने वाले मकानों को चिन्हित किया जा रहा है और उनकी एक लिस्ट बनाकर तैयार की जा रही है.

अगर उपभोक्ता व्यावसायिक बिजली का बिल दे रहा है तो उसे व्यावसायिक गृहकर भी देना होगा. गुरुवार को नगर आयुक्त शिवशरणप्पा जीएन ने नगर निगम मुख्यालय सभागार में राजस्व वृद्धि के सम्बन्ध में बैठक कर यह निर्देश अधिकारियों को दिये हैं.नगर आयुक्त ने मुख्य रूप से जीआईएस सर्वे के अनुसार नई सम्पत्तियों पर लगाये गये सम्पत्ति कर के बिल और नोटिस के आधार पर प्राप्त आपत्तियों का निस्तारण करने के भी निर्देश दिये. उन्होंने कहा कि राजस्व वसूली संबंधी कार्य में गतिशीलता एवं त्वरित कार्यवाही के लिये विशेष कैम्प का आयोजन करें. कार्यालय से वित्तीय वर्ष की गयी रजिस्ट्री की सूची ली जाये और नामांतरण की प्रक्रिया शुरू की जाये। नामांतरण के लटके मामलों को निपटाएं.

कानपुर नगर निगम एक्शन में है. क्योंकि सवा लाख से अधिक मकानों ने अब तक हाउस टैक्स नहीं पे किये हैं. जिसको लेकर कानपुर नगर निगम कार्रवाई करने जा रही है. निगम कर्मचारियों की तरफ से उन माकानों का लिस्ट बनाया जा रहा है, जिन्होंने अब तक अपनी प्रॉपर्टी का असेसमेंट नहीं कराया है. ऐसे मकान मालिकों को चिन्हित किया जा रहा है. ऐसा कहा जा रहा है कि निगम की टीम बहुत जल्द ही कार्रवाई कर सकती और करीब पांच सौ करोड़ की वसुली कर सकती है.

The post 1.25 लाख घरों ने नहीं किया प्रॉपर्टी टैक्स जमा,कानपुर नगर निगम लगाएगा एक और टैक्स appeared first on bignews.

[#content_wordai] 

Share This Article
Leave a comment