सिंगापुर जा रहे विमान में टर्बुलेंस की वजह से एक की मौत 30 पैसेंजर घायल

नई दिल्ली – फ्लाइट में बैठकर आसमान से धरती की खूबसूरती देखना सुखद होता है।लेकिन, हजारों फीट की ऊंचाई पर अगर एयरक्राफ्ट तेजी से डोलने लगे, तो जैसे जान निकल जाती है।एविएशन इंडस्ट्री में इसे एयर टर्बुलेंस या एयरक्राफ्ट शेकिंग कहते हैं।इस दौरान कुछ लोग काफी घबरा जाते हैं।कई मौकों पर एयर टर्बुलेंस प्लेन क्रैश की वजह भी बन जाता है।लंदन से सिंगापुर जा रही सिंगापुर एयरलाइंस की एक फ्लाइट में मंगलवार को टर्बुलेंस से एक यात्री की जान चली गई।30 से ज्यादा यात्री घायल भी हो गए. टर्बुलेंस के बाद प्लेन की थाईलैंड की राजधानी बैंकॉक में इमरजेंसी लैंडिंग करानी पड़ी।

ब्रिटिश पैसेंजर की मौत हो गई

अचानक लगे झटकों से 73 साल के ब्रिटिश पैसेंजर की मौत हो गई। 30 घायल हो गए। फ्लाइट लंदन से सिंगापुर जा रही थी। सिंगापुर एयरलाइन्स की बोइंग 777-300ER फ्लाइट ने लंदन से भारतीय समय के मुताबिक देर रात 2:45 बजे उड़ान भरी थी।
टेकऑफ के 11 घंटे बाद फ्लाइट म्यांमार के एयरस्पेस में 37 हजार फीट पर खराब मौसम की वजह एयर टर्बुलेंस में फंस गई। इस दौरान कई झटके लगे। विमान 5 मिनट के अंदर 37 हजार फीट की ऊंचाई से 31 हजार फीट की ऊंचाई पर आ गया।इस दौरान ऊंचाई कम करते वक्त यात्रियों को सीट बेल्ट पहनने की वॉर्निंग नहीं दी गई। कई यात्री अपनी सीट से ऊपर उछल गए। उनका सिर लगेज कंटेनर से टकरा गया। कई लोगों को चोट लगी। एक पैसेंजर की मौत हो गई।

18 सदस्यों को लेकर सिंगापुर जा रहा था विमान

एयरलाइन ने एक बयान में कहा कि बोइंग 777-300 ईआर विमान 211 यात्रियों और चालक दल के 18 सदस्यों को लेकर सिंगापुर जा रहा था। इस दौरान विमान को गंभीर स्तर के टर्बुलेंस का सामना करना पड़ा। हालात की गंभीरता को देखते हुए विमान की आपातकालीन लैंडिंग करानी पड़ी।बैंकॉक के सुवर्णभूमि हवाई अड्डे के एक प्रवक्ता ने बताया कि हमारी एक मेडिकल टीम स्टैंडबाय पर थी। वहीं, एयरलाइन ने कहा, ‘हमारी प्राथमिकता विमान में सवार सभी यात्रियों और चालक दल के सदस्यों को हर संभव सहायता उपलब्ध कराना है। हम आवश्यक चिकित्सा सहायता प्रदान करने के लिए थाईलैंड में स्थानीय अधिकारियों के साथ सहयोग कर रहे हैं।’

The post सिंगापुर जा रहे विमान में टर्बुलेंस की वजह से एक की मौत 30 पैसेंजर घायल appeared first on bignews.

[#content_wordai] 

Share This Article
Leave a comment