मैक्सवेल के नाम हुआ शर्मनाक रिकॉर्ड,मनोज तिवारी ने सुनाई खरी-खोटी

नई दिल्लीः आईपीएल 2024 का एलिमिनेटर मुकाबला बुधवार को राजस्थान रॉयल्स और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के बीच खेला गया। इस मैच में संजू सैमसन की टीम ने आरसीबी को चार विकेट से हराकर क्वालिफायर-2 में जगह बना ली। अब राजस्थान 24 मई को सनराइजर्स हैदराबाद से भिड़ेगी। एलिमिनेटर मैच में ग्लेन मैक्सवेल गोल्डन डक का शिकार हुए। इस सीजन वह चौथी बार शून्य पर आउट हुए। टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए बेंगलुरु ने 20 ओवर में आठ विकेट गंवाकर 172 रन बनाए थे। जवाब में राजस्थान ने 19 ओवर में छह विकेट गंवाकर लक्ष्य हासिल कर लिया। इस तरह बेंगलुरु के लगातार छह मैच जीतने का सफर भी खत्म हो गया। इस मैच में टीम के स्टार ऑलराउंडर ग्लेन मैक्सवेल अपना प्रभाव छोड़ने में नाकाम हुए।

मैक्सवेल ने की कार्तिक की बराबरी

इसी के साथ 35 वर्षीय खिलाड़ी के नाम एक शर्मनाक रिकॉर्ड दर्ज हो गया। वह आईपीएल में सबसे ज्यादा बार गोल्डन डक का शिकार होने के मामले में दिनेश कार्तिक के बराबर पहुंच गए। विकेटकीपर बल्लेबाज 18 बार आईपीएल में पहली गेंद पर आउट हुए। वहीं, मैक्सवेल भी बीती रात 18वीं बार आईपीएल में गोल्डन डक पर आउट हुए। टी20 क्रिकेट में मैक्सेवल ने 32वीं बार पहली गेंद पर शिकार हुए।

आईपीएल के एक सीजन में चौथी बार आउट हुए मैक्सवेल

आईपीएल का 17वां सीजन ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज के लिए कुछ खास नहीं रहा। 10 मैचों में वह सिर्फ 52 रन बना सके। इस सीजन वह चार बार गोल्डन का शिकार हुए। राजस्थान के खिलाफ खेले गए एलिमिनेटर मैच में उन्हें अश्विन ने ध्रुव जुरेल के हाथों कैच कराया। यह उनका अब तक का बल्ले से सबसे खराब प्रदर्शन है। आईपीएल 2024 में मैक्सवेल ने 8.0 के इकोनॉमी रेट से रन खर्च करते हुए सिर्फ छह विकेट हासिल किए।

ग्लेन मैक्सवेल पर जमकर भड़के मनोज तिवारी

मनोज तिवारी ने क्रिकबज पर कहा, हमें मैक्सवेल पर आना चाहिए। एक ऐसा समय था जब किसी बल्लेबाज को टिक के खेलना चाहिए था. आपके पास अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट का इतना अनुभव है…जब आप ऑस्ट्रेलिया के लिए खेलते हैं, तो आप बहुत अच्छा प्रदर्शन करते हैं। लेकिन आईपीएल में आते ही, पता नहीं उनके साथ क्या हो जाता है। ऐसा लगता है कि उन्हें कोई दिलचस्पी नहीं है। वो ये भी नहीं सोचते कि वो आउट हो रहे हैं, उनका बैंक बैलेंस तो ठीक है, चेक तो मिल ही जाएगा, रात में पार्टी कर लेंगे, हंसेंगे और फोटो खिंचवा लेंगे।अंत में नतीजा क्या निकलता है? आप जीतने के लिए खेलते हैं। जब RCB अच्छा प्रदर्शन नहीं कर रही थी, तो हम यहीं बैठकर विश्लेषण कर रहे थे कि वे प्रदर्शन क्यों नहीं कर रहे। आखिरकार, उन्हें शायद खुशी हो सकती है कि उन्होंने क्वालीफाई करने के लिए लगातार छह मैच जीते, लेकिन असल में मायने ट्रॉफी रखती है, जो नहीं मिली। तो समस्या तो है ही।’ आईपीएल 2024 में खेले गए 10 मैचों में ग्लेन मैक्सवेल ने 5.78 की औसत से सिर्फ 52 रन बनाए हैं।

आईपीएल में सबसे ज्यादा शून्य पर आउट होने वाले खिलाड़ी

18- दिनेश कार्तिक
18 – ग्लेन मैक्सवेल
17 – रोहित शर्मा
16-पीयूष चावला
16 – सुनील नरेन

पुरुष टी-20 क्रिकेट में सबसे ज्यादा शून्य पर आउट होने वाले खिलाड़ी

44-सुनील नरेन
43 – एलेक्स हेल्स
42- राशिद खान
32 – ग्लेन मैक्सवेल
32 – पॉल स्टर्लिंग

वहीं यह इस सीजन चौथा मौका था जब ग्लेन मैक्सवेल चौथी बार बिना खाता खोले पवेलियन लौटे हो और इसके साथ ही मैक्सवेल आईपीएल के एक सीजन में सबसे अधिक बार डक होने वाले खिलाड़ियों की सूची में शामिल हो गए हैं. इस लिस्ट में टॉप पर जोस बटलर हैं जो पिछले सीजन पांच मैचों में अपना खाता भी नहीं खोल पाए थे. जबकि हर्शल गिब्स, मिथुन मन्हास, मनीष पांडे, शिखर धवन, इयोन मोर्गन, निकोलस पूरन, दिनेश कार्तिक और ग्लेन मैक्सवेल संयुक्त रूप से दूसरे स्थान पर है.

The post मैक्सवेल के नाम हुआ शर्मनाक रिकॉर्ड,मनोज तिवारी ने सुनाई खरी-खोटी appeared first on bignews.

[#content_wordai] 

Share This Article
Leave a comment