‘मंगलसूत्र’ पर सियासी घमासान , CM मोहन यादव ने प्रियंका गांधी पर साधा निशाना

नई दिल्लीः लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण के बाद राजनीतिक पार्टियों के नेताओं की जुबानी जंग और तेज होती जा रही है. इसी बीच सीएम डॉ. मोहन यादव ने केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थन में एक सभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी पर निशाना साधा. उन्होंने कहा, “पूर्व प्रधानमंत्री नेहरू की आत्मा आंसू बहा रही होगी कि उनकी पोती शादीशुदा होने के बाद भी मंगलसूत्र नहीं पहनतीं.”

मंगलसूत्र पर सियासी घमासान

देश में मंगलसूत्र पर सियासी घमासान मचा हुआ है. यह मुद्दा तब उठा जब पीएम मोदी ने कांग्रेस के घोषणा पत्र पर निशाना साधते हुए कहा था कि ये आपका मंगलसूत्र भी नहीं बचने देंगे. पीएम की बात का जवाब देते हुए कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने जवाब दिया था. तभी से ये मुद्दा राजनीतिक गलियारों में गर्माया हुआ है. अब मध्यप्रदेश के मुखिया मोहन यादव भी इस विवाद में कूद पड़े हैं. तो वहीं इसके साथ उन्होंने पीएम मोदी की शादी को लेकर भी बड़ा दावा किया है.

ये सब नकली गांधीवादी

सीएम मोहन यादव ने आगे कहा, “हमारी परंपरा के अनुसार बेटी की शादी होते ही वह अपने नाम के आगे ससुराल का सरनेम जोड़ लेती है. प्रियंका (कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी) कैसे गांधी हैं? ये सब नकली गांधीवादी हैं. वे सिर्फ गांधी के नाम पर वोट बटोरना चाहते हैं, लेकिन जनता सब हिसाब चुकता करेगी.”

‘प्रियंका गांधी ने भी मंगलसूत्र पर दिया था बयान’

बता दें कि गुजरात के वलसाड के धरमपुर में कांग्रेस उम्मीदवार अनंत पटेल के समर्थन में शनिवार को एक सभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने पीएम मोदी पर भी निशाना साधा था. उन्होंने पीएम मोदी को अंकल भी कहा था. इसके साथ ही प्रियंका गांधी ने कहा कि पीएम मोदी अपने पद की गंभीरता को आधार बनाकर आपसे बकवास बातें कर रहे है. उन्होंने कहा कि हर जगह एक अंकल जी ऐसे होते है जो दरबार लगाकर सबको ज्ञान देते है. ऐसे ही अंकल जी किसी दिन कहने लगे कि कांग्रेस आएगी तो आपके गहने मंगलसूत्र चूराकर किसी और दे देगी. इससे पहले बेंगलुरु में जनसभा को संबोधित करते हुए प्रियंका गांधी ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि देश के सबसे बड़े नेता ने नैतिकता छोड़ दी. वे लोगों के सामने नाटक करते है. विपक्ष की आवाज दबाने के लिए बैंक खाते जब्त कर लिए और 2 मुख्यमंत्रियों को जेल में डालकर उन्हें कमजोर करने की कोशिश की.

नेहरू की आत्मा भी आंसू बहा रही होगी

इस पर उन्होंने मंच से ही प्रियंका गांधी से सवाल पूछते हुए कहा कि तुम्हारी शादी कहां हुई? तुम्हारी शादी तो क्रिश्चियन के यहां हुई। चलो हमारे प्रधानमंत्री की तो शादी नहीं हुई। तुमने तो दुर्भाग्य से शादी भी ऐसी जगह की। नेहरू जी की आत्मा आंसू बहा रही होगी कि मेरे घर में कहां की पोती पैदा हो गई, जो मंगलसूत्र तक नहीं पहनती, शादीशुदा होने के बाद। हमारे यहां तो बेटी विदा हो जाए, तो जो वहां का सरनेम होता है, वो लगा लेती है। लेकिन ये वोट के भूखे लोग, वोट के चक्कर में सरनेम भूल रहे हैं। आज भी गांधी लगा के घूम रहे हैं। प्रियंका भी गांधी हो गई।

राम मंदिर के मुद्दे पर मोहन यादव ने कही ये बात

उन्होंने कहा असली गांधी के बच्चे बेचारे पता नहीं आज भी कहां होंगे, ये नकली गांधी वोट के चक्कर में गांधी-गांधी के नाम पर वोट ले रहे हैं। इसके साथ ही सीएम ने कहा कि सब को पता है की भगवान राम कहां पैदा हुए। विदेशियों को बताओ, भगवान राम के यहां से आए हैं, तो वो तक समझ जाते हैं कि भारत से आए हैं। लेकिन ये कांग्रेसी नहीं समझते। इनको ये मालूम नहीं कि भगवान राम कहां पैदा हुए। हमारा तो रोम-रोम राम से जुड़ा हुआ है। सोने भी जाते हैं तो कहते हैं कि आराम करने जा रहे। अरे तुम्हे रावण के पास जाना है तो जाओ। हम तो राम वाले हैं। लेकिन ये राम पर प्रश्नचिन्ह लगाते हैं।राम मंदिर के मुद्दे पर मोहन यादव ने कहा कि जब निमंत्रण का मौका आया तो इन्हें लगा कि अब तो वोट जा रहे हैं। इन्हें डर लगा, तो डरते-डरते कहने लगे कि राम तो हमारे भी हैं। हम भी चंदा दिए हैं। तुम्हारा चंदा तुम्हारे मुंह पर फेकेंगे। तुम भगवान राम का निमंत्रण ठुकराओगे। वोट के नाम पर भगवान राम को लज्जित करोगे। हम तो इस संस्कृति के लोग हैं कि दुश्मन भी निमंत्रण देने आया तो उसको मुंह पर मना नहीं करते। ये इतने अहंकारी हो गए। इतना अहंकार तो रावण में भी नहीं था।

‘वोट के लिए गांधी परिवार के नाम का इस्तेमाल’

सीएम मोहन यादव ने सवाल किया कि प्रियंका कैसे गांधी हैं. सीएम ने पूरे गांधी परिवार को नकली गांधी बताया. उन्होंने कहा कि ये सब नकली गांधीवादी हैं. ये लोग सिर्फ गांधी के नाम पर वोट बटोरना चाहते हैं. ये लोग वोट के भूखे हैं. वोट की वजह से अपना सरनेम गांधी लगाते हैं. इसके साथ ही सीएम यादव ने ये भी कहा कि जो असली गांधी के परिवार वाले वो कहीं और हैं. ये लोग नकली गांधी हैं और गांधी के नाम पर सिर्फ वोट मांगते हैं. उन्होंने कहा कि जनता इसका जवाब जरूर देगी.

गुना से ज्योतिरादित्य सिंधिया हैं उम्मीदवार

बात करें मध्य प्रदेश के गुना की तो इस सीट से बीजेपी ने केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को उम्मीदवार बनाया है. ज्योतिरादित्य सिंधिया के पक्ष में ही प्रचार करने के लिए ही सूबे के मुख्यमंत्री मोहन यादव पहुंचे थे. तीसरे चरण में 7 मई को यहां मतदान होने वाला है. जिसको लेकर सभी राजनीतिक दल जमकर चुनाव प्रचार करने में जुटे हैं.

असली गांधी पता नहीं कहां होंगे- मोहन

मोहन यादव ने कहा कि प्रियंका शादी के बाद भी गांधी सरनेम का उपयोग करती हैं. जबकि शादी के बाद महिला को पति के उपनाम का प्रयोग करना चाहिए. ये नकली गांधी राजनीति के चक्कर में गांधी बने हुए हैं. असली गांधी तो पता नहीं बेचारे कहां होंगे.

The post ‘मंगलसूत्र’ पर सियासी घमासान , CM मोहन यादव ने प्रियंका गांधी पर साधा निशाना appeared first on bignews.

[#content_wordai] 

Share This Article
Leave a comment