ब्राजील में बाढ़ का प्रकोप ,57 से अधिक मौतें,67 हुए लापता,70,000 हुए बेघर

नई दिल्लीः ब्राजील में भारी बारिश के कारण बाढ़ और भूस्खलन से भारी तबाही मची हुई है। इसका सबसे ज्यादा कहर दक्षिणी राज्य रियो ग्रांडे डो सुल में देखने को मिल रहा है। यहां भारी बारिश के कारण कई जगहों की सड़कें बुरी तरह से धस गई है। हजारों लोगों को बाढ़ के कारण अपना घर छोड़ने पर मजबूर होना पड़ रहा है।

57 से अधिक हुई मौते

ब्राजील में इस हफ्ते की बारिश से लगभग 57 से अधिक लोगों की मौत हो गई है। वहीं, हजारों लोग लापता है। रेस्क्यू टीम बचाव कार्य में जुटी हुई है। नागरिक सुरक्षा द्वारा शनिवार को साझा किए गए नवीनतम आंकड़ों के अनुसार, विनाशकारी बाढ़ ने 281 नगर पालिकाओं को प्रभावित किया है और कम से कम 74 लोग घायल हो गए हैं।

67,000 से अधिक लोग प्रभावित

स्थानीय सरकार ने उन क्षेत्रों में आपदा की स्थिति घोषित कर दी है जहां 67,000 से अधिक लोग प्रभावित हुए हैं।इस बाढ़ से लगभग 10,000 लोग विस्थापित हो गए हैं और 4,500 से अधिक लोग अस्थायी आश्रयों में हैं।

तस्वीरों में देखें तबाही का मंजर

तस्वीरों में दिख रहा है कि कुछ इलाकों में पानी छतों तक ऊपर उठा हुआ है। बचाव दल लोगों और पालतू जानवरों की तलाशी में लगी हुई है। अधिकारियों ने कहा कि शनिवार की सुबह, तीव्र बारिश के कारण गुइबा झील में जल स्तर पांच मीटर बढ़ गया, जिससे राज्य की राजधानी पोर्टो एलेग्रे को खतरा हो गया।

भूस्खलन के कारण बांध आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त

उरुग्वे और अर्जेंटीना की सीमा से सटे राज्य रियो ग्रांडे डो सुल के नागरिक सुरक्षा प्राधिकरण ने बताया कि 67 लोग अब भी लापता हैं। 32 हजार से ज्यादा लोग विस्थापित हो गए हैं। तूफान ने राज्य के 497 शहरों में से दो तिहाई को प्रभावित किया। बाढ़ ने कई क्षेत्रों में सड़कों और पुलों को नष्ट कर दिया। भूस्खलन के कारण एक छोटे पनबिजली संयंत्र में बांध को आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त हुआ। अधिकारियों ने कहा कि बेंटो गोंसाल्वेस शहर में एक दूसरे बांध के भी ढहने का खतरा है।

उड़ानों को अनिश्चित काल के लिए निलंबित

रियो ग्रांडे डो सुल की राजधानी पोर्टो एलेग्रे में गुइबा झील में पानी बढ़ गया, जिससे वह बाढ़ के रूप में सड़कों पर आ गई। पोर्टो एलेग्रे के अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे ने सभी उड़ानों को अनिश्चित काल के लिए निलंबित कर दिया है। राज्य के मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक, अगले छत्तीस घंटों में रियो ग्रांडे डो सुल के उत्तरी और उत्तरपूर्वी क्षेत्रों में बारिश की संभावना है। हालांकि बारिश की मात्रा में गिरावट आ रही है।

बस सेवा रद्द

कई स्थानों पर, लोगों द्वारा बसों में चढ़ने की कोशिश के कारण लंबी लाइनें लग गईं, हालांकि शहर के केंद्र से आने-जाने वाली बस सेवा रद्द कर दी गई है. पोर्टो एलेग्रे अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे ने शुक्रवार को अनिश्चित अवधि के लिए सभी उड़ानें निलंबित कर दी हैं. राष्ट्रपति लुइज़ इनासियो लूला डी सिल्वा ने हेलीकॉप्टर का एक वीडियो पोस्ट किया जिसमें एक सैनिक एक घर के ऊपर गया, जहां उसने छत में छेद करने के लिए ईंट का इस्तेमाल किया और कंबल में लिपटे एक बच्चे को बचाया.उत्तरी पोर्टो एलेग्रे उपनगर में, 61 वर्षीय जोस ऑगस्टो मोरेस अपने घर में तेजी से बढ़ते बाढ़ के पानी से घिरने के बाद घबरा गए और फंसे हुए बच्चे को बचाने के लिए उन्हें अग्निशामकों को बुलाना पड़ा. उन्होंने एएफपी को बताया, “मैंने अपना सब कुछ गंवा दिया.”

बारिश के बाद ब्राजील की स्थिति

भूस्खलन और मूसलाधार तूफान के कारण लगभग 70 हजार लोग अपना घर छोड़ने के लिए मजबूर हो गए हैं. दलदली इलाकों से लोगों को बाहर निकाला जा रहा है

ब्राजील में मची इस तबाही में अब तक की आई रिपोर्ट के मुताबिक, 57 से ज्यादा लोगों के मरने की खबर सामने आई हैं, यह संख्या अभी और बढ़ सकती है.

इसके अलावा 74 लोग घायल है और करीब 67 लोग इस दौरान लापता हो गए, जिनकी खोज की जा रही है. तेज रफ्तार के आए बाढ़ में कई पुल टूट कर बह गए हैं.

तूफान से सबसे ज्यादा पोर्टो एलेग्रे नाम का शहर प्रभावित हुआ है, यहां झील किनारों को तोड़ते हुए शहर में घुस गए हैं. ज्यादातर घरों में पानी घुस चुका है.

पोर्टो एलेग्रे में तूफान और मूसलाधार बारिश को मद्देनजर रखते हुए इंटरनेशनल एयरपोर्ट के सभी उड़ानों को अनियमित समय के लिए को रद्द कर दिया है.

बाढ़ के दौरान एक छोटे हाइड्रोइलेक्ट्रिक पावर प्लांट आंशिक रूप से ढह गया और बेंटो गोंसाल्वेस शहर में एक दूसरे बांध के भी ढहने की आशंका जताई जा रही है.

रेस्क्यू टीम बाढ़ में फंसे लोगों को बचाने में लगी हुई है. जानकारी के मुताबिक,बाढ़ की वजह से 10 लाख से ज्यादा लोगों को पीने का पानी उपलब्ध नहीं है.

रियो ग्रांडे डो सुल राज्य में जलस्तर में बढ़ाव से बांधों पर दबाव पड़ रहा है, खतरे को देखते हुए गवर्नर एडुआर्डो लेइट ने आपातकाल की स्थिति घोषित कर दी है.

कई स्थानों पर बस के लिए प्रस्थापित कर रहे लोगों की लंबी लाइन देखने को मिल रही है, हालांकि शहर के केंद्र से आने-जाने वाली बस सेवा रद्द कर दी गई है.

ब्राजील की एक अन्य नदी ग्रेवाताई के किनारे बांध के ऊपर पानी का बढ़ने के बाद मेयर सेबस्टियाओ मालो ने लोगों को स्थान छोड़ने की कड़ी चेतावनी दी गई है.

The post ब्राजील में बाढ़ का प्रकोप ,57 से अधिक मौतें,67 हुए लापता,70,000 हुए बेघर appeared first on bignews.

[#content_wordai] 

Share This Article
Leave a comment