बर्थडे स्पेशल: जेबखर्च के लिए गर्लफ्रेंड से पैसे लेते थे परेश रावल,फिल्म ‘हेरा-फेरी’ से बने कॉमेडी किंग

मुंबई – जिस एक्टर की हम बात कर रहे हैं. वो कोई और नहीं फिर ‘हेरा फेरी’ के बाबू भैया यानी परेश रावल हैं. 30 मई को वो अपना 69वां बर्थडे सेलिब्रेट कर रहे हैं. उन्होंने अपनी दमदार एक्टिंग से लोगों के दिलों में अपना घर बनाया है. कॉमेडी के साथ-साथ कई फिल्मों में वो विलेन बनकर भी छाए हैं. उन्होंने हर किरदार को पर्दे पर शानदार तरीके से उतारा है. क्या आप जानते हैं कि वो अपनी गर्लफ्रेंड से पैसे लेते थे और बैंक की नौकरी भी छोड़ दी थी.अपनी बेहतरीन कॉमेडी और एक्टिंग के लिए पहचाने जाने वाले परेश रावल आज 69 साल के हो गए हैं। तकरीबन 240 फिल्मों में काम कर चुके परेश रावल ने 100 फिल्मों में विलेन और बाकी ज्यादातर फिल्मों में कॉमिक रोल किए हैं।

एक्टिंग करियर की शुरुआत बतौर थिएटर आर्टिस्ट

इन्होंने अपने एक्टिंग करियर की शुरुआत बतौर थिएटर आर्टिस्ट की थी। इसी बीच बैंक में नौकरी लगी तो सिर्फ 3 दिन में छोड़ दी और गर्लफ्रेंड से पैसे लेकर गुजारा करते रहे। बाद में फिल्मों में किस्मत आजमाई और फिर पीछे पलटकर नहीं देखा।अपनी दमदार अदाकारी के दम पर ये इंडस्ट्री के बड़े स्टार बन गए। इन्हें 1993 में फिल्म ‘सर’ और 1994 में फिल्म ‘छोकरी’ के लिए बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर का नेशनल अवॉर्ड मिला, लेकिन सबसे ज्यादा पॉपुलैरिटी परेश रावल को मिली फिल्म ‘हेरा-फेरी’ से।साल 2000 रिलीज हुई इस फिल्म में परेश रावल ने बाबूराव गणपतराव आप्टे उर्फ बाबू भैया का रोल निभाया और फिर इसी नाम से पहचाने जाने लगे। हालांकि, परेश रावल को अब ये किरदार बिल्कुल पसंद नहीं है।

200 से ज्यादा फिल्मों में किया काम

परेश लंबे समय से इंडस्ट्री में हैं. उन्होंने अब तक 200 से ज्यादा फिल्मों में काम किया है. उन्होंने एक इंटरव्यू में खुलासा करते हुए बताया था कि उनकी फैमिली में पॉकेट मनी जैसा कोई हिसाब नहीं था. इसलिए उन्होंने बैंक में जॉब करने का फैसला किया. उन्हें ‘बैंक ऑफ बड़ौदा’ में जॉब भी मिल गई. लेकिन यहां उनका मन नहीं लगा. उन्होंने डेढ़ महीने की नौकरी को 3 दिन में ही छोड़ दिया. इसके बाद खर्चे के लिए अपनी गर्लफ्रेंड से पैसे लेते थे.

मात्र 3 दिन में छोड़ दी थी बैंक की नौकरी

परेश रावल का जन्म 30 मई 1955 को मुंबई की एक मिडिल क्लास फैमिली में हुआ था। पिता बिजनेसमैन थे, लेकिन परेश बचपन से ही एक्टर बनना चाहते थे। पिता ने भी उन्हें कभी इसके लिए नहीं रोका। स्कूल के दिनों से ही परेश रावल नाटकों में हिस्सा लिया करते थे।ये सिलसिला कॉलेज के जमाने तक भी चला जिसके चलते परेश रावल को फिल्मों में कई रोल ऑफर होने लगे। हालांकि, तब उनकी फिल्मों में दिलचस्पी नहीं थी और वो थिएटर में काम करके ही खुश थे।इसके अलावा उन्होंने एक बैंक में नौकरी करनी शुरू की, लेकिन ये 3 दिन में ही छोड़ दी थी, क्योंकि वो उस जॉब से नाखुश थे। इसके बाद वो करीब दो महीने तक अपनी गर्लफ्रेंड स्वरूप संपत से उधार लेकर गुजारा करते रहे, लेकिन फिर एक दिन उनकी मुलाकात फिल्म डायरेक्टर केतन मेहता से हुई।दोनों मिले तो एक नाटक के सिलसिले में थे, लेकिन इसी दौरान दोनों की अच्छी दोस्ती हो गई और केतन मेहता ने इन्हें फिल्मों में काम करने के लिए मना लिया।

मिस इंडिया रह चुकी हैं परेश की वाइफ

परेश की गर्लफ्रेंड कोई और नहीं उनकी पत्नी स्वरूप संपत ही थीं, जो एक एक्ट्रेस थी. क्या आप जानते हैं कि परेश की पत्नी स्वरूप 1979 की मिस इंडिया भी रह चुकी हैं. उन्होंने एक इंटरव्यू में बताया कि वो अपनी गर्लफ्रेंड यानी स्वरूप के लिए काफी पजेसिव हैं. 1987 में दोनों ने शादी कर ली और दो बेटों, आदित्य और अनिरुद्ध के माता-पिता बने. परेश की फिल्मों की बात करें तो ‘हीरो नंबर 1’, ‘जुदाई’, ‘मिस्टर एंड मिसेज खिलाड़ी’ ‘हेरा फेरी’ जैसी कई फिल्में शामिल हैं.

जब विलेन के रोल से ऊब गए परेश

उन्होंने काफी समय तक विलेन के रोल प्ले किए। उन्हें अक्सर बिजनेसमैन, जमींदार, थानेदार जैसे किरदारों में देखा गया, जिनमें इनका किरदार नेगेटिव हुआ करता था। लंबे समय तक एक ही तरह के नेगेटिव रोल करते हुए परेश रावल बोर हो गए।उन्होंने दोस्त केतन मेहता को अपने मन की बात बताई। केतन ने उन्हें विलेन की इमेज से बाहर निकालने के लिए 1993 में फिल्म ‘सरदार’ बनाई। इस फिल्म में परेश रावल ने सरदार वल्लभ भाई पटेल का किरदार निभाया जिसे काफी पसंद किया गया।

‘हेरा फेरी’ के ‘बाबू भैया’ ने कर दिया अमर

साल 2000 में परेश रावल, प्रियदर्शन की फिल्म ‘हेरा फेरी’ में बाबू भैया के रोल में नजर आए। इस किरदार ने परेश को बुलंदियों पर पहुंचा दिया। ये बाबूराव का स्टाइल है जैसे डायलॉग फैंस की जुबान पर छा गए। आलम ये है कि फिल्म रिलीज होने के 24 साल बाद आज भी बाबू भैया के डायलॉग्स पर हजारों मीम वायरल होते हैं।’हेरा फेरी’ के हिट होने के बाद इसका सीक्वल 2006 में रिलीज हुआ था जिसका नाम ‘फिर हेरा फेरी’ था, इसमें भी परेश रावल ने काम किया था। अब जल्द ही इसका तीसरा पार्ट भी आने वाला है, जिसकी शूटिंग चल रही है।

‘वेलकम टु द जंगल’ और ‘हेरा फेरी 3’ में दिखेंगे

एक इंटरव्यू में परेश रावल ने अपने अपकमिंग प्रोजेक्ट्स के बारे में बताया था। उन्होंने कहा था कि हेरा फेरी 3 से पहले फिल्म ‘वेलकम टु द जंगल’ रिलीज होगी। इसमें उनके साथ 25 बड़े कलाकार काम कर रहे हैं। ‘हेरा फेरी 3’ भी 2025 तक रिलीज हो सकती है।एक इंटरव्यू में उन्होंने ‘हेरा फेरी 3’ करने की वजह बताते हुए कहा था, ‘फिर वही सफेद धोती कुर्ता और चश्मा, फिर वही डायलॉग्स, इसलिए मैं ‘हेरा फेरी 3’ में काम करने के लिए मोटी रकम चार्ज करूंगा, क्योंकि पैसे के अलावा अब इस रोल को करने के लिए मेरे पास कोई और मोटिवेशन नहीं है।’

फिल्मी करियर

परेश ने फ़िल्मी करियर की शुरुआत गुजराती फिल्म ‘नसीब नी बलिहारी ‘से की थी. उनकी पहली हिंदी फ़िल्म आमिर खान-मीरा नायर की ‘होली’ है. उन्होंने ‘डकैत’, ‘कब्ज़ा’, ‘राम लखन’, ‘स्वर्ग’, ‘ज़ुल्म की हुकूमत’ और ‘दामिनी’ जैसी फिल्मों में विलेन का रोल भी किया. वहीं 28 मई को उन्होंने अपनी अपकमिंग फिल्म ‘द ताज स्टोरी’ का ऐलान किया. इसके अलावा वो अक्षय की फिल्म ‘सरफिरा’ में भी दिखाई देंगे.

The post बर्थडे स्पेशल: जेबखर्च के लिए गर्लफ्रेंड से पैसे लेते थे परेश रावल,फिल्म ‘हेरा-फेरी’ से बने कॉमेडी किंग appeared first on bignews.

[#content_wordai] 

Share This Article
Leave a comment