पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द क्यों होता है? ,ये गंभीर बीमारी के हो सकते है संकेत

नई दिल्लीः पेट में दर्द एक आम समस्या है, जो किसी भी उम्र के लोगों को परेशान कर सकती है। अकसर लोगों को लगता है कि पेट में दर्द गैस की वजह से होता है, या फिर पेट में कीड़ों की वजह से दर्द का अनुभव हो सकता है। लेकिन अगर आपको अकसर ही पेट में दर्द होता है, तो इसे बिल्कुल भी नजरअंदाज न करें। क्योंकि लंबे समय तक पेट में दर्द होना कई बीमारियों का संकेत हो सकता है। खासकर, अगर आपके पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द हो रहा है, तो इसके कारण गंभीर हो सकते हैं। तो चलिए, डॉ. निशांत नागपाल, वरिष्ठ सलाहकार, गैस्ट्रोएंटरोलॉजी और हेपेटोबिलरी साइंसेज, फोर्टिस एस्कॉर्ट्स लीवर एंड डाइजेस्टिव डिजीज इंस्टीट्यूट, ओखला

अपच

अपच होने पर अकसर पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द होता है। ये वैसे तो खाने से जुड़ी गलतियों के कारण होता है, लेकिन अपच के भी कई कारण होता है। जैसे कि जल्दी-जल्दी खाना खाना, खाना सही से ना पचना या कोई कोई बीमारी। इस तरह की अपच के कारण पेट के ऊपरी हिस्से में या दोनों तरफ जलन का भी अनुभव हो सकता है। इस दौरान पटे के ऊपरी हिस्से में सूजन और असहजता महसूस होती है। इसके कारण आपका जी मिचलाना और गैस की समस्या महसूस हो सकती है।

​एसिडिटी

दाहिने पेट में दर्द के पीछे सबसे आम कारणों में से एक हार्टबर्न होता है, जो अक्सर एसिड रिफ्लक्स के कारण होता है। एसिड रिफ्लक्स, जिसे गैस्ट्रोओसोफेगल रिफ्लक्स (जीईआरडी) के रूप में भी जाना जाता है, तब होता है जब पेट के एसिड वापस गले और पेट को जोड़ने वाले ट्यूब में जमा होने लगते हैं। इससे छाती या गले में जलन होती है।

गैस्ट्रोओसोफेगल रिफ्लक्स डिजीज

गैस्ट्रोओसोफेगल रिफ्लक्स डिजीज एसिड रिफ्लक्स है, जो आपके एसोफैगल लाइनिंग को परेशान कर सकता है। जीईआरडी में आप पेट से छाती में ऊपर जाते हुए गैस या भारीपन को महसूस कर सकते हैं। इससे आपको अपने ऊपरी पेट में दर्द महसूस हो सकता है। इसकी वजह से आपको छाती में दर्द, निगलने में समस्या और खट्टी डकार और अनिद्रा जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

​फैटी लिवर डिजीज

फैटी लिवर की बीमारी तब होती है जब लिवर में अतिरिक्त चर्बी जमा हो जाती है। हालांकि इसके मरीजों में लक्षण तब तक नजर नहीं आते हैं, जब तक कि रोग लिवर सिरोसिस नहीं बन जाता है। लेकिन पेट में दर्द या पेट के ऊपरी दाहिने हिस्से में भरा अनुभव करना इसके लक्षणों में शामिल हो सकते हैं

गोल ब्लैडर में पथरी

पित्ताशय की पथरी की वजह से भी आपको पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द का अहसास हो सकता है। आपको बता दें कि पित्त एक पाचक द्रव है, जो लिवर में बनता है और आपके पित्ताशय में जमा होता है। जब आप खाते हैं, तो पित्ताशय की थैली सिकुड़ जाती है और पित्त को छोटी आंत (डुओडेनम) में खाली कर देती है। जब ये पित्त ज्यादा बनने लगता है और पथरी का रूप ले लेता है, तो पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द होता है। इसके साथ ही दाहिने कंधे में दर्द, उल्टी या मितली, ब्रेस्टबोन के नीचे अचानक तेज दर्द जैसे लक्षणों से भी जूझना पड़ सकता है।

​अपेंडिक्स

अपेंडिक्स एक छोटी थैली होती है जो आपके पेट के निचले दाहिने हिस्से में कोलन से लटकती है। इसमें सूजन को एपेंडिसाइटिस कहते हैं। जिसका लक्षण पेट दर्द होता है, जो आपके पेट के बीच में शुरू होता है और निचले दाहिने हाथ की ओर जाता है।

गैस्ट्राइटिस

गैस्ट्राइटिस (Gastritis) उन लोगों को ज्यादा होता है, जो शराब का सेवन ज्यादा करते हैं। यह बैक्टीरियल इंफेक्शन के कारण होता है। अत्यधिक शराब पीने और नियमित रूप से दर्द निवारक दवाओं का उपयोग करने से भी गैस्ट्राइटिस हो सकता है। स्थिति आपके ऊपरी पेट में दर्द या जलन पैदा कर सकती है जो खाने के समय और बढ़ सकता है। इसलिए गैस्ट्राइटिस से बचाव के लिए हमें ज्यादा तेल मसाला खाने से बचना चाहिए और साथ ही एसिडिटी की दवाओं और पेन किलर्स का उपयोग करने से भी बचना चाहिए।

नाभि खिसकना

नाभि का हमारे पाचन तंत्र से गहरा संबंध होता है, इसलिए नाभि में किसी भी तरह के असंतुलन हमारे पेट दर्द का कारण बनती है। इसलिए नाभि खिसकने पर कई बार ऊपरी पेट में भी दर्द हो सकता है। हालांकि ये ध्यान दें तो, ये धीमे-धीमे घूमता रहता है पर आपके पेट के ऊपरी हिस्से में भी दर्द बनी रह सकती है। इसके साथ ही आपको खट्टी डकारें, अपच, कब्ज, दस्त आदि जैसे अलग-अलग लक्षण महसूस हो सकते हैं।

इरिटेबल बॉवेल सिंड्रोम

इरिटेबल बॉवेल सिंड्रोम (IBS) के रोगी भी आमतौर पर पेट में दर्द और ऐंठन महसूस करते हैं। दर्द पेट के ऊपरी हिस्से में दाएं या बाएं में हो सकता है या ये फैल भी सकता है। मरीजों को अक्सर ऐसे दर्द के बारे में अच्छे से बता पाने में मुश्किल होती है। इसमें आंतों में सूजन आ जाती है जिससे पाचन संबंधी परेशानियां, ब्लॉटिंग की समस्या और कब्ज की परेशानी भी रहती है।

पेनक्रिएटाइटिस

पेनक्रिएटाइटिस (Pancreatitis) तब होता है जब पेनक्रियाज में सूजन आ जाती है। दरअसल, पेनक्रियाज एक लंबी, चपटी ग्रंथि है जो पेट के ऊपरी हिस्से में पेट के पीछे टिकी हुई है। ये पाचक एंजाइम पैदा करता है जो पाचन में मदद करता है। साथ ही ये हार्मोन को भी बनाता है जो आपके शरीर को चीनी (ग्लूकोज) पचाने में मदद करते हैं। ज्यादा शराब और धूम्रपान करने से पेनक्रिएटाइटिस हो सकता है।

पेप्टिक अल्सर

पेप्टिक अल्सर एक खुला घाव है जो या तो आपके पेट की परत (गैस्ट्रिक अल्सर) के अंदर या आपकी छोटी आंत के ऊपरी हिस्से पर होता है। पेप्टिक अल्सर का कारण बैक्टीरियल इंफेक्शन या एस्पिरिन जैसे कुछ दर्द निवारक दवाओं का लंबे समय से उपयोग करने के कारण भी हो सकता है। पेप्टिक अल्सर से पेट में जलन हो सकती है, जिसे आप अपने ऊपरी पेट के बाईं ओर दर्द महसूस कर सकते हैं।

लिवर से जुड़ी बीमारियां

लिवर से जुड़ी बीमारियों चाहे वो हेपेटाइटिस हो या लीवर एब्सेस (liver abscess) इन दोनों में ही आप ऊपरी पेट के दाहिने हिस्से में दर्द महसूस कर सकते हैं। लीवर एब्सेस में तो लिवर में फोड़ा हो जाता है,जिससे लिवर डैमेज होने लगती हैं। ​

कैंसर

कुछ प्रकार के कैंसर के लक्षण पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द के रूप में दिखते हैं। इसमें अग्नाशय का कैंसर (Pancreatic Cancer), पेट का कैंसर, लिवर कैंसर मुख्य रूप से शामिल है। ऐसे में यदि ज्यादा दिनों तक पेट के इस हिस्से में दर्द बना रहे तो इसे हल्के में न लें।

​किडनी डिजीज

पेट के दाहिने तरफ ऊपरी हिस्से में किडनी होता है। जिसकी वजह से किडनी में होने वाली गड़बड़ी इस हिस्से में दर्द का कारण बन सकती है। इसमें किडनी इंफेक्शन और किडनी स्टोन जैसे किडनी डिजीज भी शामिल है।

​हो सकती है ये बीमारी भी

पेट के ऊपरी दाहिने हिस्से में दर्द का कारण पित्त पथरी, पित्ताशय की थैली से संबंधित समस्याएं हो सकती है। पेट दर्द के कम गंभीर कारणों में इर्रिटेबल बाउल सिंड्रोम, कब्ज, फूड एलर्जी, लैक्टोज इनटॉलरेंस, फूड पॉइजन और पेट में इंफेक्शन शामिल हैं।

The post पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द क्यों होता है? ,ये गंभीर बीमारी के हो सकते है संकेत appeared first on bignews.

[#content_wordai] 

Share This Article
Leave a comment