पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की आज के दिन ही हुई थी हत्या, राहुल गांधी दी श्रद्धांजलि

नई दिल्ली – भारत के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की आज पुण्य तिथि है। इस दिन यानी 21 मई को हर साल आतंकवाद विरोधी दिवस के रूप में मनाया जाता है। साल 1991 में तमिलनाडु के श्रीपेरंबदूर में एक चुनावी सभा के दौरान लिबरेशन टाइगर्स ऑफ तमिल ईलम के एक आत्मघाती हमलावर द्वारा उनकी हत्या कर दी गई थी। आत्मघाती हमलावर ने एक बेल्ट बम चलाया था, जिसमें राजीव गांधी समेत कई लोग मारे गए थे। पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की हत्या के बाद से 21 मई 1991 को आधिकारिक तौर पर राष्ट्रीय आतंकवाद विरोधी दिवस की घोषणा की गई थी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राजीव गांधी को दी श्रद्धांजलि

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की पुण्यतिथि पर उन्हें श्रद्धांजलि दी। राजीव गांधी 1984 से 1989 तक भारत के प्रधानमंत्री रहे। 1991 में चुनावी प्रचार के दौरान तमिलनाडु में के श्रीपेरंबदूर में लिट्टे कैडरों ने उनकी हत्या कर दी थी। राजीव गांधी की पुण्यतिथि पर कांग्रेस सांसद राहुल गांधी अपने पिता को याद कर सोशल मीडिया पर तस्वीरें साझा की।

रैली में प्रधानमंत्री राजीव गांधी और उनकी पत्नी सोनिया गांधी

1989 में आगामी संसदीय चुनावों की तैयारी के लिए एक रैली में प्रधानमंत्री राजीव गांधी और उनकी पत्नी सोनिया गांधी के साथ राहुल गांधी भी गए थे।इस तस्वीर में देश के दो पूर्व प्रधानमंत्रियों के साथ राहुल गांधी और प्रियंका गांधी भी नजर आ रहे हैं। पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के आगे बैठा मासूम सा बच्चा राहुल गांधी है।

कांग्रेस नेताओं ने दी श्रद्धांजलि

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे, पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी एवं राहुल गांधी समेत पार्टी के अन्य नेताओं ने भी श्रद्धांजलि अर्पित की। उनके अलावा कांग्रेस नेता सचिन पायलट और पी. चिदंबरम ने दिल्ली में वीर भूमि पर पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की 33वीं पुण्यतिथि पर उन्हें श्रद्धांजलि दी। राहुल गांधी ने अपने पिता राजीव गांधी को याद कर एक्स पर एक तस्वीर साझा करते हुए पोस्ट किया। उन्होंने कहा, “पापा, आपके सपने, मेरे सपने, आपकी आकांक्षाएं, मेरी जिम्मेदारियां। आपकी यादें, आज और हमेशा, दिल में सदा।”

कैसे हुई राजीव गांधी की हत्या?

राजीव गांधी एक चुनावी सभा में भाग लेने श्रीपेरंबदूर गए थे। सभा से पहले लोगों का अभिवादन स्वीकार करते हुए राजीव गांधी आगे बढ़ रहे थे, तभी लिबरेशन ऑफ तमिल टाइगर्स ईलम (LTTE) की महिला सदस्य जो अपने कपड़ों के भीतर विस्फोटक छिपाकर ले गई थी, ने राजीव गांधी का पैर छूने के बहाने विस्फोट कर दिया। अचानक तेज धमाके से धुएं का विशाल गुब्बारा उठा। धुआं हटता तब तक पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी समेत वहां मौजूद लोगों के चिथड़े उड़ चुके थे। भारी संख्या में लोग घायल भी हुए थे। इसके बाद से 21 मई को राजीव गांधी की स्मृति में आतंकवाद दिवस मनाया जा रहा है।

The post पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की आज के दिन ही हुई थी हत्या, राहुल गांधी दी श्रद्धांजलि appeared first on bignews.

[#content_wordai] 

Share This Article
Leave a comment