पिता की मौत के बाद आखिरी बार चेहरा तक देखने नहीं गईं रेखा,जानिए फिर भी कैसा था दोनों का रिश्ता

मुंबई – ग्लैमर की दुनिया और इसके सितारों को लेकर फैन्स के मन में हमेशा सवाल बने रहते हैं. हर कोई स्टार्स की निजी जिंदगी के बारे में जानना चाहता है. खासकर सेलिब्रिटी अगर चर्चा में रहती हो तो ये जिज्ञासा और भी तेज हो जाती है. सितारों का अपना परिवार के लोगों के साथ रिश्ता कैसा है ये सवाल हमेशा से फैन्स की लिस्ट में सबसे ऊपर रहता है. ऐसा ही एक रिश्ता मशहूर अभिनेत्री रेखा और उनके पिता जैमिनी गणेशन का भी है.

रामास्वामी गणेशन भारतीय फिल्म इंडस्ट्री की मशहूर हस्ती थे

साउथ की मशहूर हस्ती थे रेखा के पिता रेखा के पिता रामास्वामी गणेशन अपने वक्त में दक्षिण भारतीय फिल्म इंडस्ट्री की मशहूर हस्ती थे. जितने वो अपने प्रोफेशन के लिए मशहूर थे उससे ज्यादा वो अपनी निजी जिंदगी को लेकर चर्चा में रहते थे. शुरुआती दौर में रेखा के पिता मद्रास के एक कॉलेज में कैमिस्ट्री के लेक्चरर के तौर पर काम कर रहे थे लेकिन एक्टिंग के सपने को पूरा करने के लिए उन्होंने ये नौकरी छोड़ दी थी. इसके बाद उन्होंने प्रोडक्शन एक्जीक्यूटिव के तौर पर जैमिनी स्टूडियोज में काम करना शुरू कर दिया. धीरे-धीरे जैमिनी साउथ फिल्म इंडस्ट्री का एक बड़ा नाम बन गए.

नहीं मिला पिता का नाम

इस फोटो में रेखा काफी छोटी हैं और उनके गालों पर नजर ना लागे इसलिए काजल का टीका लगाया गया है. बता दें, रेखा का जन्म 10 अक्टूबर 1954 में चेन्नई में हुआ था. वह साउथ के स्टार जेमिनी गणेशन और पुष्पावली की बेटी है, लेकिन उन्हें कभी पिता का नाम नहीं मिला. महज 16 साल की उम्र में रेखा ने फिल्मों में काम करना शुरू कर दिया, लेकिन खुद रेखा ने बीबीसी को दिए एक इंटरव्यू में बताया था कि फिल्मों में एक्टिंग की शुरुआत करना उनकी मजबूरी थी. आर्थिक तंगी की वजह से उन्होंने 16 साल की उम्र में फिल्मों में काम करने की शुरुआत की.

पिता ने कभी नहीं दिया बेटी का दर्जा

शादीशुदा होने के बावजूद जैमिनी गणेशन पुष्पवेल्ली नाम की महिला के साथ रिश्तों में रहे. इन दोनों की एक बेटी हुई जिसका नाम भानुरेखा रखा गया. हालांकि जैमिनी गणेशन ने रेखा को कभी अपनी बेटी का दर्जा नहीं दिया. हाल ही में रेखा और जैमिनी गणेशन की एक तस्वीर सामने आई है. इस तस्वीर में रेखा अपने पिता के साथ बैठी हैं और शर्माते हुए कैमरा के लिए पोज कर रही हैं. इस मोनोक्रोम तस्वीर में एक्टर कमल हासन भी दिखाई दे रहे हैं. तस्वीर में रेखा साड़ी, बिंदी और झुमका पहने हुए हैं और उनको पहचानना भी खासा मुश्किल है.

ताउम्र रहीं सिंगल

अमिताभ बच्चन से पहले रेखा का नाम एक्टर किरण कुमार और विनोद मेहरा से भी जुड़ चुका है, लेकिन इन दोनों ही स्टार्स के घरवाले नहीं चाहते थे कि रेखा उनके घर की बहू बनें. पिता का नाम न होना रेखा के रिश्ते के बीच आ गया. फिर फिल्म ‘दो अंजाने’ के सेट पर रेखा और अमिताभ की प्यार की कहानी शुरू हुई. दोनों ने एक साथ कई फिल्में की. अमिताभ की शादी के बाद भी रेखा के साथ उनके रिश्ते ही अफवाह बनी हुई थी. लेकिन एक बार जया बच्चन ने रेखा से कहा कि वह अपने पति को कभी नहीं छोड़ेंगी और रेखा उनके दूर हो जाए. इसके बाद रेखा, अमिताभ से दूर हो गईं. लेकिन अमिताभ पर दिल हार बैठी रेखा हमेशा सिंगल ही रहीं.

पिता से बहुत प्यार करती थी रेखा

जैमिनी गणेशन साल 2005 में ही दुनिया को अलविदा कह चुके हैं. एक वेबसाइट को दिए गए इंटरव्यू के दौरान रेखा से उनके पिता के बारे में पूछा गया था. क्या आपको अपने पिता को लेकर दुख होता है. इसके जवाब में रेखा ने कहा था कि मुझे आखिर दुख क्यों होगा, मेरे ज्यादातर हिस्सा वो ही हैं, मैं उनसे मिले जीन के लिए भी शुक्रगुजार हूं, उनसे मुझे जो लाइफ स्टाइल मिला है मैं उसके लिए भी उनका शुक्रिया करती हूं. रेखा ने कहा था कि मैं खुश हूं कि मुझे कभी उनके साथ बुरा वक्त नहीं गुजारना पड़ा. वो हमेशा मेरी यादों में मौजूद हैं. और ये असलियत में उनकी मौजूदगी से भी ज्यादा खास है.

आखिरी बार कब मिली थी

दरअसल, रेखा के अपने पिता से अच्छे रिश्ते इसीलिए कायम नहीं हो पाए क्योंकि जेमिनी ने कभी उनकी मां को पत्नी का दर्जा दिया ही नहीं. दोनों के रिश्ते में इस कदर दूरी थी कि जब जेमिनी का निधन हुआ तब अंतिम दर्शन के लिए भी रेखा नहीं पहुंची थीं. दोनों को एक साथ साल 1994 में फिल्म फेयर अवॉर्ड के मंच पर देखा गया था. उस वक्त रेखा उनसे प्रोफेशनल तौर पर मिली थीं. मंच पर एक्ट्रेस अपने पिता को अवॉर्ड देने पहुंची थीं.

पिता की इज्जत करती थीं रेखा

हालांकि, बाप और बेटी के बीच रिश्ते कैसे भी हों रेखा उनकी लोगों के सामने इज्जत बहुत करती थीं. जब फिल्म फेयर अवॉर्ड के मंच पर रेखा पहुंची तो फौरन उनके पांव छुए. साथ ही, दोनों एक दूसरे को देखकर रो पड़े. अब जेमिनी इस दुनिया में नहीं हैं और इस दर्द को रेखा कैसे सहती हैं ये उनका दिल ही बता सकता है.

विनोद मेहरा से शादी से जुड़ा हुआ है किस्सा

एक और किस्सा विनोद मेहरा से शादी से जुड़ा हुआ है. किताब के अनुसार रेखा से गुपचुप शादी रचाने के बाद विनोद मेहरा उन्हें अपने घर भी लेकर गए थे. लेकिन विनोद मेहरा की मम्मी इस शादी से खुश नहीं थीं. विनोद मेहरा की मम्मी को ये भी गवारा नहीं था कि रेखा उनके घर में एंटर कर सके. वो इस कदर नाराज थीं कि रेखा को देखते ही उनकी तरफ चप्पल लेकर दौड़ पड़ी थीं. हालांकि रेखा और विनोद मेहरा दोनों ही इस मामले पर हमेशा खामोश रहे.

The post पिता की मौत के बाद आखिरी बार चेहरा तक देखने नहीं गईं रेखा,जानिए फिर भी कैसा था दोनों का रिश्ता appeared first on bignews.

[#content_wordai] 

Share This Article
Leave a comment