पाकिस्तानी सुप्रीम कोर्ट में इमरान खान ने लिया केजरीवाल का नाम -जाने क्यों ?

नई दिल्ली – जेल में बंद पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान ने उनके साथ किये गए दुर्व्यवहार की उच्चतम न्यायालय में शिकायत की और भारत में लोकसभा चुनाव में प्रचार करने के लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को जमानत मिलने का उदाहरण दिया. राष्ट्रीय जवाबदेही अध्यादेश में संशोधन से जुड़े एक मामले में प्रधान न्यायाधीश काजी फैज ईसा की अध्यक्षता वाली शीर्ष अदालत की पांच सदस्यीय पीठ के समक्ष बृहस्पतिवार को अपनी पेशी के दौरान, पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी के अध्यक्ष ने अप्रैल 2022 में प्रधानमंत्री पद से अपदस्थ होने के बाद से उन्हें प्रताड़ित किये जाने की शिकायत की.

अदालत से की दु‌र्व्यवहार की शिकायत

सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान उन्होंने अपने साथ जेल में हुए दु‌र्व्यवहार की भी शिकायत की. वह गुरुवार को पांच सदस्यी पीठ के सामने पेश हुए थे, जिसकी अध्यक्षता मुख्य न्यायाधीश काजी फैज इसा ने की थी. वह राष्ट्रीय जवाबदेही अध्यादेश (एनएओ) में संशोधन से संबंधित एक मामले में सुनवाई में शामिल हुए थे.

‘मुझे निशाना बनाया जा रहा’

इमरान खान ने कहा कि अप्रैल 2022 में सरकार से हटाए जाने के बाद से ही उन्हें निशाना बनाया जा रहा है. इमरान खान ने शिकायत करते हुए कहा कि पाकिस्तान में आठ फरवरी को हुए चुनाव से दूर रखने के लिए उन्हें पांच दिनों के भीतर ही दोषी करार दे दिया गया था.उन्होंने खैबर पख्तूनख्वा सरकार की ओर से केस की सुनवाई के लाइव प्रसारण की अपील को खारिज करने के कोर्ट के फैसले पर भी निराशा व्यक्त की.

इमरान खान ने अपनी जमानत की सुनवाई के दौरान

जेल में बंद इमरान खान ने अपनी जमानत की सुनवाई के दौरान पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट की पांच सदस्यी बेंच के सामने कहा कि हमारे पड़ोसी मुल्क में एक ऐसी न्यायपालिका है जो चुनाव प्रचार के लिए जेल में बंद एक मुख्यमंत्री को जमानत पर रिहा कर देती है. भारत में आम चुनाव के दौरान दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को वहां के सुप्रीम कोर्ट ने जमानत पर रिहा किया था ताकि वह अपनी पार्टी के लिए चुनाव प्रचार कर सकें, लेकिन वह (खान) पाकिस्तान में अत्याचार का सामना कर रहे हैं जहां अघोषित मार्शल लॉ लगा हुआ है.

The post पाकिस्तानी सुप्रीम कोर्ट में इमरान खान ने लिया केजरीवाल का नाम -जाने क्यों ? appeared first on bignews.

[#content_wordai] 

Share This Article
Leave a comment