दिनेश कार्तिक का हेलमेट बाकियों से क्यों होता है अलग?,जानें वज़ह

नई दिल्लीः टीम इंडिया के विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक फैंस के बीच काफी ज्यादा पॉपुलर हैं। दिनेश कार्तिक पिच पर अपनी विस्फोटक बल्लेबाजी के अलावा हेलमेट में अपरंपरागत पसंद के लिए भी जाने जाते हैं। दिनेश कार्तिक का हेलमेट सबसे अलग और स्टाइलिश रहता है। दिनेश कार्तिक जब भी मैदान में बल्लेबाजी के लिए या विकेटकीपिंग के लिए जाते हैं, तो फैंस की नजर उनके हेलमेट पर हमेशा रहती है। आइए जानते हैं कि दिनेश कार्तिक अन्य बल्लेबाजों की तुलना में अलग हेलमेट क्यों पहनते हैं।

दिनेश कार्तिक आईपीएल 2024 में शानदार पारियां खेलीं

दिनेश कार्तिक आईपीएल 2024 में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के लिए खेल रहे हैं. कार्तिक ने सीज़न की शुरुआत में कुछ बेहद ही शानदार पारियां खेलीं. सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ खेले गए टूर्नामेंट के 30वें मुकाबले में कार्तिक ने 35 गेंदों में 83 रनों की पारी खेली थी. लेकिन इन सबसे बीच आपने शायद एक चीज़ नोटिस की होगी कि दिनेश कार्तिक बाकी बल्लेबाज़ों के मुकाबले अलग तरह के हेलमेट का इस्तेमाल करते हैं. लेकिन वह ऐसा क्यों करते हैं? तो हम आपको इसके पीछे की पूरी कहानी समझाएंगे.

दिनेश कार्तिक का हेलमेट बाकियों से है अलग

Yeh helmet best protection deti hain

Spaceship pe design Kiya hai aur bohot comfortable hai. Try karke dekho .

MOONWALKER hai naam 🙏🏽 https://t.co/8N2JuTdo6y

— DK (@DineshKarthik) September 28, 2023

दिनेश कार्तिक जो हेलमेट पहनते हैं वो हेलमेट बेसबॉल या फिर अमेरिकी फुटबॉल टूर्नामेंट के दौरान पहने जाने वाले हेलमेट से मिलता जुलता है। दिनेश कार्तिक के हेलमेट पर गौर करें तो पाएंगे कि डीके का हेलमेट गोल नहीं होता है और उनके हेलमेट पर छोटे-छोटे छेद होते हैं। ये हेलमेट काफी अलग और हल्के होते हैं। दिनेश कार्तिक शुरू से ही हल्के हेलमेट पसंद करते हैं क्योंकि उन्हें बैटिंग के अलावा विकेटकीपिंग भी करनी होती है। वहीं उनके इस स्पेशल हेलमेट पर छोटे-छोटे छेद मौजूद होते हैं जिसकी मदद से हवा अंदर और बाहर जाती है और पसीना सुखने में मदद मिलती है।इसके अलावा दिनेश कार्तिक का हेलमेट सिर पर बेहतर ढंग से फिट होता है। बता दें कि 37 साल के दिनेश कार्तिक ने लंबे टाइम बाद टीम इंडिया की टी-20 टीम में वापसी की है। वापसी के बाद से दिनेश कार्तिक फिनिशर की भूमिका में नजर आ रहे हैं। लोवर ऑर्डर में डीके ने टीम इंडिया के लिए कई मैच फिनिश किए हैं। टी-20 वर्ल्ड कप में डीके को भारतीय टीम में चुना गया है।

‘माइंड 2.0 हेलमेट’

कार्तिक बैटिंग और विकेटकीपिंग के दौरान जो हेलमेट इस्तेमाल करते हैं, उसकी बनावट कुछ अलग होती है. कार्तिक जिस तरह का हेलमेट इस्तेमाल करते हैं, उसे ‘माइंड 2.0 हेलमेट’ कहा जाता है. इस तरह के हेलमेट को कुमार संगकारा और राहुल त्रिपाठी जैसे बल्लेबाज़ भी इस्तेमाल करते हैं. इस हेलमेट को इस्तेमाल करने की सबसे बड़ी वजह हल्का वजन होता है. जहां बाकी साधारण हेलमेट का वजन करीब 1 से 1.25 किलोग्राम के बीच होता है. दूसरी तरफ, ‘माइंड 2.0 हेलमेट’ का वजन करीब 800 ग्राम होता है. हल्के वज़न के चलते खिलाड़ी इस हेलमेट को पहनकर ज़्यादा अच्छे मूवमेंट कर सकते हैं. वज़न के जैसे यह हेलमेट कीमत में भी कम होते हैं. इन्हीं कुछ वजह के चलते खिलाड़ी ‘माइंड 2.0 हेलमेट’ का उपयोग करते हैं. बता दें कि दिनेश कार्तिक काफी लंबे वक़्त से इस तरह के हेलमेट का इस्तेमाल कर रहे हैं.

आईपीएल 2024 में कार्तिक ने की धुंआधार बल्लेबाज़

मौजूदा सीज़न यानी आईपीएल 2024 में कार्तिक के बल्ले से कुछ बेहद ही शानदार पारियां देखने को मिलीं. कार्तिक ने 14 मैचों में 39.38 की औसत और 195.65 के स्ट्राइक रेट से 315 रन बनाए. इस दौरान उनके बल्ले से 2 अर्धशतक निकले. कार्तिक ने 26 चौके और 22 छक्के लगाए. कार्तिक बेंगलुरु के लिए निचले क्रम में उतरकर फिनिशर की भूमिका अदा करते हैं. चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ खेले गए आखिरी लीग मैच में कार्तिक ने 6 गेंदों में 14 रनों की छोटी लेकिन अहम पारी खेली थी.

कार्तिक- इसका इस्तेमाल करने वाले पहले नहीं हैं

कई लोगों को आश्चर्य हो सकता है कि कार्तिक इस तरह के बेसबॉल हेलमेट का उपयोग करने वाले एकमात्र खिलाड़ी हैं। हालांकि, मैं आपको बता दूं कि कई खिलाड़ियों ने सामान्य के बजाय ऐसे अपरंपरागत हेलमेट का इस्तेमाल किया है। इस हेलमेट का इस्तेमाल करने वाला एक बहुत ही मशहूर नाम कुमार संगकारा है। श्रीलंका के पूर्व विकेटकीपर-बल्लेबाज भी दिनेश कार्तिक की तरह अपने अनोखे हेलमेट के लिए जाने जाते थे। उन्होंने आईपीएल में किंग्स इलेवन पंजाब, डेक्कन चार्जर्स और सनराइजर्स हैदराबाद जैसी फ्रेंचाइजी का प्रतिनिधित्व किया।हाल के दिनों में एक खिलाड़ी जो इस तरह की टोपी के साथ देखा गया है, वह है राहुल त्रिपाठी। वह बल्लेबाजी करते समय हल्के हेलमेट को प्राथमिकता देते हैं। इस विशेष हेलमेट का इस्तेमाल करने वाले अन्य अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट नाम इंग्लैंड के पूर्व बल्लेबाज, जेम्स टेलर और माइकल कारबेरी हैं। इसलिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में इस तरह के अजीबोगरीब हेलमेट का उपयोग करना बहुत दुर्लभ नहीं है, जिसे क्रिकेट परिषद अनुमति देती है।

हल्के हेलमेट: एक जोखिम भरा विकल्प हैं

हालाँकि, फायदे के साथ नुकसान भी आते हैं। इस हल्के हेलमेट का एक महत्वपूर्ण पहलू इसकी सुरक्षा है। टोपी न होने के कारण अगर इसे पहनकर किसी के सिर में चोट लग जाए तो वह गंभीर रूप से घायल हो सकता है या चोटिल हो सकता है। हालांकि, यह एक जोखिम है कि दिनेश कार्तिक गैर-पारंपरिक हेलमेट पहनने के लिए तैयार हैं।

The post दिनेश कार्तिक का हेलमेट बाकियों से क्यों होता है अलग?,जानें वज़ह appeared first on bignews.

[#content_wordai] 

Share This Article
Leave a comment