गौतम अडानी का नाम जुड़ते ही रॉकेट बना Paytm का शेयर

नई दिल्ली – पेटीएम की पेरेंट कंपनी वन97 कम्युनिकेशंस लिमिटेड ने साफ किया है कि वो अपनी हिस्सेदारी बेचने के लिए अडाणी ग्रुप से बातचीत नहीं कर रही है। इससे पहले कल मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा था कि पेटीएम के फाउंडर और CEO विजय शेखर शर्मा ने डील को अंतिम रूप देने के लिए मंगलवार को अहमदाबाद में गौतम अडाणी से मुलाकात की।वन97 कम्युनिकेशंस लिमिटेड ने बयान जारी करते हुए कहा- हम यह स्पष्ट करना चाहते हैं कि ये खबरें अटकलें हैं और कंपनी इस संबंध में किसी भी चर्चा में शामिल नहीं है। डील पर बातचीत नहीं होने की खबरों के बीच पेटीएम के शेयर में आज 29 मई को 5% की तेजी देखने को मिल रही है। यह 7.10 रुपए (4.99%) चढ़कर 359.45 रुपए पर कारोबार कर रहा है।

पेटीएम पर आरबीआई की ओर से प्रतिबंध लगाए गए है. इसके बाद पेटीएम की पेरेंट कंपनी वन97 कम्युनिकेशंस इन दिनों मुश्किलों से गुजर रही है। इसीलिए लंबे समय से पेटीएम फाउंडर और सीईओ विजय शेयर शर्मा नए इन्वेस्टर्स की खोज में लगे है। वहीं, बुधवार को टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट में बताया गया है कि पेटीएम के फाउंडर और सीईओ विजय शेखर शर्मा ने 28 मई को अहमदाबाद जाकर अदाणी ग्रुप के चेयरमैन से मुलाकात की। इसी मामले पर अब अदाणी ग्रुप की ओर से सफाई आई है। अदाणी ग्रुप का कहना है कि विजय शेयर शर्मा से हिस्सेदारी खरीदने की खबर गलत है।ONE97 COMMUNICATIONS LTD में हिस्सेदारी खरीदने की खबर बेबुनियाद है।

पेटीएम के फाउंडर और सीईओ विजय शेखर शर्मा ने मंगलवार को अहमदाबाद में गौतम अडानी से मुलाकात की। शर्मा की 97 वन कम्युनिकेशंस में 9.10 फीसदी हिस्सेदारी है। साथ ही विदेशी एंटिटी Resilient Asset Management के जरिए भी उनकी कंपनी में 10 फीसदी हिस्सेदारी है। हालांकि पेटीएम ने एक्सचेंजेज को बताया कि यह रिपोर्ट अफवाह है और कंपनी इस बारे में कोई बातचीत नहीं कर रही है। पेटीएम ने कहा, ‘हम स्पष्ट करना चाहते हैं कि मीडिया में आई रिपोर्ट केवल अफवाह है। कंपनी इस बारे में किसी के साथ कोई चर्चा नहीं कर रही है।’ अडानी ग्रुप ने भी इस रिपोर्ट को आधारहीन अफवाह बताते हुए इसका खंडन किया है। अडानी ग्रुप के प्रवक्ता ने कहा कि यह पूरी तरह गलत है और इसमें कोई सच्चाई नहीं है।

The post गौतम अडानी का नाम जुड़ते ही रॉकेट बना Paytm का शेयर appeared first on bignews.

[#content_wordai] 

Share This Article
Leave a comment