इम्युनिटी लेवल बढ़ाने के लिए ये प्राकृतिक स्रोत

मुंबई – मई के महीने में अब गर्मी का तापमान (Summer Season)बढ़ने लगा है तो कहीं-कहीं पर बारिश हो रही है जिसकचलते बदलते मौसम में कई बीमारियां पनपती है। इस मौसम में हम अगर संतुलित आहार और खानपान बेहतर नहीं आप तमाम तरह के रोगों से बचे रहते हैं क्योंकि शरीर के ज्यादातर रोगों का कारण वायरस और बैक्टीरिया होते हैं। आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता इन बैक्टीरिया और वायरस से आपकी रक्षा करती है। कई ऐसे विटामिन्स हैं, जो आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते हैं। आइए आपको बताते हैं कौन से हैं वो विटामिन्स और क्या हैं उन विटामिन्स के प्राकृतिक स्रोत।

शरीर को हेल्दी बनाने के लिए

शरीर को हेल्दी बनाने के लिए आप विटामिन डी से भरपूर फूड को अपनी डाइट में शामिल करें यह पोषक तत्व आपके शरीर के लिए फायदेमंद होता है जो हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली को स्ट्रॉंन्ग बनाता है वहीं पर संक्रमण से से लड़ने में मदद करता है। इसके लिए आप अपनी डाइट में विटामिन डी के लिए सूरज की किरणों और फैट युक्त मछली को भी शामिल कर सकते है।

विटामिन सी के प्राकृतिक स्रोत-

सभी खट्टे फलों जैसे- नींबू, संतरा, आंवला, मौसमी, अंगूर, टैंगरीज, स्ट्रॉबेरी आदि में भरपूर विटामिन सी पाया जाता है। इसके अलावा ब्रोकली, केल, शिमला मिर्च, पालक और समुद्री आहारों में भी विटामिन सी पाया जाता है। एक छोटे नींबू में 29.1 मिलीग्राम तक, एक छोटे संतरे में करीब 51.1 मिलीग्राम तक और 100 ग्राम टुकड़े में 445 मिली ग्राम तक विटामिन सी होता है।

विटामिन बी-6- विटामिन बी-6

शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है। विटामिन बी-6 शरीर में बायोकेमिकल रिएक्शन को सपोर्ट करता है, जिससे इम्यून सिस्टम को काम करने में मदद मिलती है। विटामिन बी 6 पानी में घुलनशील होते हैं और ये हार्ट, स्किन और नर्वस सिस्टम से जुड़े कई रोगों में फायदेमंद होते हैं। इस विटामिन से डिप्रेशन और सुस्ती से भी राहत मिलती है। विटामिन बी 6 शरीर में हार्मोन्स के कंट्रोल के लिए भी बहुत जरूरी है। इसकी कमी से कई तरह के इमोशनल डिस्आर्डर, दिल से जुड़ी बीमारियां, किडनी रोग, मल्टिपल स्क्लेरोसिस, एनीमिया, आर्थराटिस और इंफ्लुएंजा आदि रोगों का खतरा बढ़ जाता है।

The post इम्युनिटी लेवल बढ़ाने के लिए ये प्राकृतिक स्रोत appeared first on bignews.

[#content_wordai] 

Share This Article
Leave a comment