अखिलेश यादव ने अचानक बदल दिया UP में सपा का प्रदेश अध्यक्ष?-जानें वज़ह

नई दिल्लीः लोकसभा चुनाव के बीच समाजवादी पार्टी ने प्रदेश नेतृत्व में बड़ा बदलाव किया है. सपा ने प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल की जगह श्याम लाल पाल को उत्तर प्रदेश का नया प्रदेश अध्यक्ष बनाया है. श्याम लाल पाल इससे पहले सपा के महासचिव का कार्यभार भी संभाल चुके हैं. उसके बाद नरेश उत्तम पटेल ने उन्हें प्रदेश कार्यकारिणी में शामिल किया था. बीते साल ही सपा ने उन्हें प्रदेश उपाध्यक्ष की जिम्मेदारी भी सौंपी थी.

ओबीसी वोटर्स पर SP का निशाना

अखिलेश यादव की अगुवाई वाली सपा ने श्यामलाल पाल को यूपी का नया प्रदेश अध्यक्ष बनाकर ओबीसी वोटर्स पर निशाना साधने की कोशिश की है. तीसरे चरण की वोटिंग से पहले पार्टी प्रदेश में जातीय समीकरण को साधने की कोशिश में लगे हैं.

निरंजन ज्योति के सामने नरेश उत्तम

सपा ने फतेहपुर से अपने उम्मीदवार के नाम के ऐलान में काफी वक्त लगाया. नामांकन की तारिख खत्म होने से महज 2 दिन पहले ही पार्टी ने नरेश उत्तम पटेल को यहां से उम्मीदवार बनाने का ऐलान कर दिया. नरेश उत्तम के सामने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने फतेहपुर संसदीय सीट से वर्तमान सांसद साध्वी निरंजन ज्योति को उतारा है जबकि बहुजन समाज पार्टी (BSP) ने डॉक्टर मनीष सिंह सचान को अपना उम्मीदवार बनाया है.

कौन हैं श्याम लाल पाल?

श्याम लाल पाल प्रयागराज के रहने वाले हैं. वे प्रयागराज की प्रतापपुर विधानसभा सीट के रहने वाले हैं .पेशे से को शिक्षाविद हैं और एक इंटर कॉलेज में प्रिंसिपल के पद से रिटायर हुए हैं. पिछले लगभग 20 सालों से श्याम लाल समाजवादी पार्टी में हैं. नरेश उत्तम पटेल की कमेटी में प्रदेश उपाध्यक्ष थे. 2002 में अपना दल के टिकट पर प्रतापपुर सीट से विधानसभा का चुनाव भी लड़े थे पर चुनाव लड़ने के कुछ दिनों बाद ही समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए थे. वे समाजवादी पार्टी में अलग-अलग पदों पर रहकर लगातार काम कर रहे हैं.

इस सीट पर टिकी है अखिलेश यादव की नजर

वरिष्ठ पत्रकार परवेज अहमद कहते हैं कि कन्नौज की अपनी सीट बचाने के लिए अखिलेश यादव ने यहां प्रदेश अध्यक्ष बदला है. हालांकि नरेश उत्तम पटेल की लोगों में कमजोर पकड़ भी इसका एक कारण है. नरेश पटेल की कार्यकर्ताओं में कमजोर पकड़ और मजबूत संगठन न होना भी एक कारण है. परवेज अहमद ने कहा कन्नौज लोकसभा से अखिलेश यादव लड़ रहे हैं और वहां पाल समाज का वोट अच्छा खासा है और वहां पाल समाज बीजेपी से नाराज चल रहा है, जिस कारण इस नए प्रदेश अध्यक्ष से अखिलेश यादव को कन्नौज की सीट पर अच्छा फायदा मिल सकता है. उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी अपनी पीडीए की लाइन को आगे बढ़ा रही है और पीडीए के ही एक नेता को उन्होंने प्रदेश अध्यक्ष बनाया है.

मैनपुरी से अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव

बता दें कि मैनपुरी से अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव चुनावी ताल ठोक रही हैं. इसके अलावा रामगोपाल यादव के बेटे अक्षय यादव फिरोजाबाद सीट से चुनाव लड़ रहे हैं. अक्षय इस सीट पर 2014 में जीत हासिल कर चुके हैं. वहीं बदायूं लोकसभा सीट से शिवपाल यादव के बेटे आदित्य यादव चुनाव लड़ रहे हैं. इस सीट पर 2014 में धर्मेंद्र यादव जीत हासिल कर चुके हैं.

नरेश उत्तम पटेल हैं अखिलेश यादव के बेहद करीबी

बता दें कि इस लोकसभा चुनाव में नरेश उत्तम पटेल यूपी की फतेहपुर लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं. नरेश उत्तम पटेल अखिलेश यादव के बेहद करीबी माने जाते हैं. बताया जा रहा है कि नरेश उत्तम पटेल अपने चुनाव पर पूरी तरह से फोकस कर सकें, इसके लिए प्रदेश अध्यक्ष की जिम्मेदारी श्याम लाल पाल को सौंपी है.

मंगलवार को उत्तर प्रदेश के 10 सीटों पर वोटिंग होगी

बता दें कि मंगलवार को उत्तर प्रदेश के 10 सीटों पर वोटिंग होगी. इनमें संभल, हाथरस, आगरा, फतेहपुरी सीकरी, फिरोजाबाद, मैनपुरी, एटा, बदायूं, आंवला और बरेली शामिल है. इस फेज में कुल 100 उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं. वहीं 1.88 करोड़ मतदाता हिस्सा लेंगे. इस चुनाव में केंद्रीय मंत्री एसपी सिंह बघेल, यूपी के पर्यटन मंत्री जयवीर सिंह, राजस्व राज्य मंत्री अनूप प्रधान बाल्मीकि और मुलायम सिंह यादव के परिवार के कई सदस्यों की किस्मत का फैसला होगा.

The post अखिलेश यादव ने अचानक बदल दिया UP में सपा का प्रदेश अध्यक्ष?-जानें वज़ह appeared first on bignews.

[#content_wordai] 

Share This Article
Leave a comment